अधिदेश

मत्स्य उत्पादन बढाने तथा मात्स्यिकी विनियम उन्नत करने, संसाधन संरक्षण सुनिश्चित करने एवं पर्यावरण सुरक्षा हेतु भारतीय समुद्री मात्स्यिकी की उभरती आवश्यकताओं  को पूरा करने के लिए भा. मा. स. के अधिदेश की सूची निम्नलिखित हैः-  

*     भारतीय अनन्य आर्थिक क्षेत्र (ई ई जेड) एवं समीपस्थ महासमुद्र में मत्स्य स्टॉक (भंडारों) का सर्वेक्षण एवं निर्धारण तथा मत्स्यन क्षेत्र का चार्टिंग।  

*     मात्स्यिकी विनियम, प्रबन्ध और संरक्षण के लिए मात्स्यिकी संसाधनों की मॉनिटरिंग।

*     अधिकतम संपोषित उपज, पर्यावरण का परिरक्षण और समुद्री पारिस्थितिक तंत्र के पारिस्थितिक विज्ञान के विशेष संदर्भ के साथ गहन समुद्र मत्स्यन गियर की उपयुक्तता का निर्धारण।

*     मात्स्यिकी प्रबन्ध में सुदूर संवेदन का प्रयोग सहित समुद्री मात्स्यिकी पूर्वामान।

*     गहन समुद्री मात्स्यिकी संसाधनों पर आँकड़ा अनुरक्षण एवं विविध उपभोक्ता समूह को सूचना का प्रचार- प्रसार।

*     मानव संसाधन विकास के माध्यम से मत्स्यन प्रचालकों को प्रशिक्षण और संबंधित संस्थान व संगठनों का संकाय आवश्यकता की पूर्ति।

 

13 फरवरी 2014 सायम 04:48 इस पृष्ट का अध्यतन किया गया।